बुरी आदतों से कैसे बचे – 10 जबरदस्त तरीके

तो दोस्तो हमे उम्मीद है की आपको हमारे सभी आर्टिकल time to time मिल रहे होंगे. अगर आपको हमसे कोई शिकायत है तो हमे comment के थ्रू बताइए. चलो अब बात करते है आज के आर्टिकल के बारे मे. आज का आर्टिकल है की,बुरी आदतो से कैसे बचे”. बुरी आदते तब तक बुरी नही होती जब तक आप उसके आदि नही हो जाते. अगर आप कोई भी चीज़ लिमिट से करते हो तो वो एक good habit बन जाती है पर अगर वही चीज़ो के आप आदि हो जाओ तब वो चीज़े बुरी आदतो मे आजाती है.

सभी मे अच्छी आदते होती है तो बुरी आदते भी होती है. बुरी आदते भी 2 types की होती है, एक वो जो आपको पता है की मेरे मे है और दूसरी वो जिसपर आप नोटीस नही करते. आप तब तक अपनी बुरी आदतो से पीछा नही छुड़ा सकते जब तक आपको ये नही पता होगा की आपमे बुरी आदते है क्या. कोई भी बुरी आदतो को छोड़ना easy नही होता but नामुमकिन भी नही है. इस आर्टिकल मे हम आपको बताएँगे की बुरी आदतो से कैसे बचे? So, please check out below……………………………………………………………………………………………………

buri-aadato-se-kaise-bache

अपनी सोच को बदलो

बुरी आदतो से पीछा छुड़ाने के लिए सबसे पहले आपको अपनी सोच को बदलना होगा. आपको सबसे पहले ये समझना होगा की मेरे मे क्या क्या बुरी आदते है. जब तक आप को पता नही होगा की आपमे क्या क्या बुरी आदते है तब तक आप इसके बारे मे सोचोगे नही. आपको ये समझना होगा की इन सब बुरी आदतो से क्या नुकसान हो रहा है और मुझे इससे कैसे निकलना है. तो नीचे हमने कुछ common बुरी आदते बताए है और इसके बारे मे भी बताया है की ये क्यों dangerous है और इससे कैसे बचा जाये.

1. क्या आप ज़्यादा Smoking करते है?

जेसा की हमने उपर भी बताया है की अगर आप कोई चीज़ limit से करते हो तो वो बुरी आदतो मे नही आती है पर अगर आप उस चीज़ के आदि हो जाते हो तब वो बुरी आदतो मे आजाती है. क्या आप स्मोकिंग करते है? अगर करते है तो कभी आपमे ध्यान दिया है की आप इसके आदि तो नही हो गये. अगर आप स्मोकिंग 2-3 दिन मे एक बार करते हो तो तब ठीक है पर अगर आप smoking एक दिन मे 2 – 3 बार करते हो तो तब ये आपके सेहत के लिए हानिकारक है.

ये क्यों Dangerous है

अब बात करते है की ज़्यादा स्मोकिंग करना क्यों dangerous है? अगर रिसर्च वालो की माने तो स्मोकिंग करने से जितना फायदा होता है उतना ही नुकसान होता है. ज़्यादातार लोग स्मोकिंग स्ट्रेस और डिप्रेशन को मिटाने के लिए करते है. आज के youngsters smoking fashion के तौर पर करते है. पर आप लोगो ने कभी सोचा है की स्मोकिंग हमारे लिए कितना dangerous है. Smoking करने से सीधा असर हमारे लिवर पर पड़ता है. Liver मे इतना टार जमा हो जाता है की उससे liver कमजोर हो जाते है. जो ज़्यादा स्मोकिंग करते है वो ज़्यादा देर तक भाग नही सकते क्योंकि वो जल्दी हाफते है. ज़्यादा स्मोकिंग करने से आपको heart attack के ज़्यादा chance हो जाते है. अगर हम ऐसे ही कई डेंजरस बात इस आर्टिकल मे लिखेंगे तो आप डर जाओगे. अगर आप स्मोकिंग बहुत ज़्यादा करते हो तो छोड़ दे.

इससे कैसे बचे

किसी भी चीज़ को छोड़ पाना बहुत मुस्किल होता है. अगर आप स्मोकिंग की बात करे तो हा बहुत मुस्किल है छोड़ना, इसकी लत इतनी गंदी है की अगर आपको टाइम से स्मोकिंग ना करने को मिले तो आप तिलमिला जाओगे. तो ऐसे मे हम आपको एक सलाह देते है स्मोकिंग को छोड़ने का सबसे आसान तरीका ये है की आप चूयिंग गुम चबाना स्टार्ट कर दे. जब भी आपको स्मोकिंग करने का मन करे तब एक चूयिंगगुम चबा ले. ऐसे मे आपको बहुत relax feel होगा और आपकी आदत थोड़े दीनो मे सही हो जाएगी.

2. क्या आप ज़्यादा Drinking करते है?

Smoking की तरह ज़्यादा drinking करना भी बहुत harmful है. हमारे हिन्दुस्तान मे ज़्यादा घर drinking के कारण ही बर्बाद हुए है. अगर आप ड्रिंकिंग को लिमिट से पिएँगे तो ये एक दवाई का काम करती है पर अगर आप इससे ज़्यादा इस्तेमाल करोगे तो ड्रिंकिंग बुरी आदतो मे आजाती है.

ये क्यों Dangerous है

अगर आप ड्रिंक रेगुलर करते हो तो ये poison का काम करती है. ज़्यादा drinking से लिवर खराब होते है. ज़्यादातार लोग ड्रिंकिंग स्ट्रेस और डिप्रेशन को कम करने के लिए पीते है. लोगो की माने तो ड्रिंकिंग करने से स्ट्रेस और डिप्रेशन से थोड़े टाइम तक राहत मिलती है. अगर असलियत मे देखा जाए तो ड्रिंकिंग कई घरो को बर्बाद करती है.

इससे कैसे बचे

Drink करने का मज़ा तब आता है जब group मे drinking किया जाए. लोगो का मानना है की ग्रूप मे ड्रिंकिंग करने का मज़ा ही कुछ और होता है. वेसे भी अकेले मे ड्रिंक करना किसी को पसंद नही है साथ मे कोई ना कोई चाहिए होता है. तो अगर आप ड्रिंकिंग छोड़ना चाहते है तो ऐसे लोगो के साथ घूमना बंद कर दे जो ड्रिंकिंग करते है. ऐसे मे drinking अपने आप छूट जाएगी. माना की स्टार्टिंग मे ड्रिंकिंग छोड़ना बहुत मुस्किल है पर आप एक बारी try तो कर सकते है. अगर फिर भी आपकी ड्रिंकिंग की लत ना छूटे तो अपने घर वालो के बारे मे सोचो. शायद आपको अकल आजाए.

3. क्या आप ज़्यादा झूट बोलते है?

छोटा मोटा झूट तो चलता है पर आपको ये पता नही होगा की इन्ही छोटे मोटे झूट से आप बहुत ज़्यादा झूट बोलना स्टार्ट कर देते हो. कभी कबार तो आपको भी खुद नही पता होता की आप झूट बोल बैठे हो. एक झूट बोलने पर आपको और 100 झूट बोलने पड़ता है.

ये क्यों Dangerous है

झूट बोलने वालो को शायद फर्क ना पड़े पर झूट सुनने वालो को बहुत फर्क पड़ता है. माना की ऐसी बाते जिसे सुनने के बाद सामने वालो को गुस्सा आजाए तो ऐसे मे लोग झूट बोलना ज़्यादा पसंद करते है. वो सोचते है की एक झूट बोलने से बात दब जाती है पर आपने कभी सोचा है की जब उस बंदे को सच्चाई के बारे मे पता चलेगा तब उसमे मन मे क्या बीतेगी. ऐसे मे आप अपना trust खो देते हो. Trust बनाना बहुत मुस्किल होता है और trust टूटने मे देरी नही लगती.

इससे कैसे बचे

अगर आप किसी को झूट बोलने के बारे मे सोच रहे हो तो ऐसे मे सोचिए की जब उसे सच्चाई के बारे मे पता चलेगा तब उसके मन मे क्या बीतेगी. तब शायद आपको सच्चाई बोलना ज़्यादा easy लगे.

4. क्या आप ज़्यादा टीवी देखते है?

वेसे टीवी देखने को बुरी आदतो मे नही माना जाता पर अगर आप बहुत ज़्यादा टीवी देखते हो तो इसे बुरी habit मे माना जाता है. ज़्यादा टीवी देखने से आप physically activities कम कर पाते हो. वेसे बहुत कम लोगो को पता होगा की जो लोग ज़्यादा टीवी देखते है उनको कई बीमारिया हो सकती है.

ये क्यों Dangerous है

रिसर्च से पता चला है की जो लोग रोज 3 घंटे से ज़्यादा टीवी देखते है उनका weight बहुत बढ़ता है. ज़्यादा टीवी देखने से आखो की रोशनी कम होती है और आप कोई भी physically activites नही कर पाते हो. अगर आप ये सोचते हो की ज़्यादा टीवी देखने से आप ज़्यादा नालेज ले रहे हो तो आप ग़लत सोच रहे हो, असल मे ज़्यादा टीवी देखने से आप अपनी memory लोसल कर रहे होते हो वो भी बहुत तेज़ी से. हा माना की आपको सुनने मे तोड़ा अजीब लगे पर ये सच्चाई है.

इससे कैसे बचे

टीवी देखना सभी को पसंद है और कोई भी नही चाहेगा की वो टीवी ना देखे. हम आपको ये नही बोल रहे की आप टीवी देखना छोड़ दो. बस आप फालतू की चीज़े देखना छोड़ दो, आप टीवी तभी देखो जब आपको टीवी से कुछ नालेज मिल रहा हो. आपको एक दिन मे कम से कम 2 घंटे टीवी देखना चाहिए और बाकी के टाइम अपना काम.

5. क्या आप ब्रेकफास्ट Skip करते है?

ज़्यादातार लोग morning के time मे ब्रेकफास्ट नही करते है, अगर रीज़न की बात की जाए तो late होने एक कारण. माना की आज कल की लाइफ बहुत फास्ट है पर ऐसे मे ब्रेकफास्ट स्किप करना बहुत बुरी बात है. कहा जाता है की morning मे ब्रेकफास्ट करना बहुत ज़रूरी होता है. Morning के ब्रेअफास्ट से आप पूरे दिन भर अपने आपको तरो ताज़ा फील करते हो.

ये क्यों Dangerous है

अगर आप सुबह ब्रेकफास्ट नही करते हो तो ऐसे मे आप अपना weight, अपना एनर्जी लेवेल खो बैठते हो. आपका पूरा दिन थकान वाला हो जाता है और ऐसे मे आपका काम मे मन भी नही लगता. तो भलाई इसी मे है की ब्रेकफास्ट करना स्टार्ट कर दो.

इससे कैसे बचे

इससे बचने का एक ही तरीका है की ब्रेकफास्ट करना स्टार्ट कर दे. अगर आप लंबे टाइम से ब्रेकफास्ट नही कर रहे थे तो स्टार्टिंग मे आपका ब्रेकफास्ट करने का मन नही करेगा. ज़बरदस्ती ब्रेकफास्ट करे, धीरे धीरे आपको ब्रेकफास्ट करने की आदत हो जायेगी.

6. क्या आपको ज़्यादा गुस्सा आता है?

ज़्यादा गुस्सा आना बुरी आदत नही है ये कईओ के nature मे होता है पर ज़्यादा गुस्से मे कुछ ग़लत बोल जाना या ग़लत कर जाना ये बुरी आदत है. जो लोग गुस्से मे भी cool रहते है वो बहुत समझदार होते है.

ये क्यों Dangerous है

कई बार क्या होता है की जब आपको गुस्सा आता होता है तो आप किसी को कुछ बुरा भला कह देते हो या गुस्से मे लड़ाई कर बैठते हो. इसमे नुकसान आप का ही होता है. तो भलाई इसी मे है की अपने गुस्से को पालना सीखो मतलब् उसे सहना सिख लो.

इससे कैसे बचे

जब आपको लगे की आपको बहुत गुस्सा आरहा है तो ऐसे टाइम मे cool रहना सिख ले. नही तो उसी टाइम उठ कर कही और चले जाए. नही तो गुस्सा आने के टाइम मे अपने मन मे 1 से ले कर 10 तक गिनती करना start कर दे. ऐसे मे आपको बहुत relax feel होगा.

7. क्या आप ज़्यादा पैसा उड़ाते है?

कईओ को पैसे save करने की आदत होती है तो कईओ को पैसे खरचने की आदत. जो लोग ज़्यादा पैसे खर्चते है उन्हे बाद मे पैसो की दिक्कत होती है. वेसे अमीर लोगो को कोई फर्क नही पड़ता पर जो लोग मीडियम है उन्हे बहुत फर्क पड़ता है बाद मे. तो नीचे हमने यही बताया है की ये क्यों dangerous है और इससे कैसे बचे.

ये क्यों Dangerous है

अगर आप किसी सही चीज़ के लिए पैसा इनवेस्ट कर रहे है तो अच्छी बात है पर अगर आप फालतू खर्चे करने के लिए पैसे खर्च रहे है तो इसमे बाद मे आपका ही नुकसान है. पैसे खर्च करने के टाइम पर आपको इतना फर्क नही पड़ेगा पर बाद मे आपको पछतावा होगा की आपने पैसे क्यों खर्च दिए. तो इसलिए हम आपको कह रहे है की पैसे को बचना सीखे, फालतू खर्च ना करे. ऐसे मे होगा क्या की आपके पास ज़रूरत के टाइम पर पैसे होंगे और आपको पछताना भी नही पड़ेगा.

इससे कैसे बचे

अगर आप चाहते है की आपको बाद मे पछतावा ना होये तो पैसे को बचाना सीखे. फालतू खर्चे कम करे. बचाये हुए पैसे बाद मे आपके बहुत काम आते है.

9. क्या आप ज़्यादा Free रहते है?

ज़्यादा फ्री रहना भी एक बुरी आदत है. फ्री रहने की भी एक age होती है पर अगर आप काम करने की age मे फ्री रहते है तब ये बुरी habbit बन जाती है. सही age मे किया गया काम आपको बाद मे फायदा देती है.

ये क्यों Dangerous है

मान लो की आपकी age 22 साल है और आपको कुछ करने का मन नही करता और आप फ्री रहना ज़्यादा पसंद करते हो या आवारा रहना ज्यदा पसंद हो. ऐसी age मे कई लोग course करते है या job करना स्टार्ट कर देते है, ताकि आने वाले सालो मे वो लाइफ मे सेट हो सकते. पर अगर आप इन्हे age मे फ्री रहोगे तो लाइफ मे सेट कब होगे. तभी कहते है की age के साथ साथ लाइफ को आगे बढाओ, जिस age मे खेलने की उमर है उस age मे खेलो, जिस age मे काम करने की उमर है उस age मे काम करो.

इससे कैसे बचे

वेसे भी लाइफ बड़ी मुस्किल से मिलती है उसे फ्री रहने मे बर्बाद ना करो. फ्री रहने से अच्छा उस टाइम को कुछ करने मे invest करो. कुछ नया सीखो, कही job करो या कोई कोर्स etc etc. ये सब करा हुआ लाइफ मे आपके बहुत काम आएगी. फ्री रहकर आपको इसकी आदत हो जाएगी.

10. क्या आप ज़्यादा दोस्तो के साथ रहते है?

दोस्तो का होना आपको happy रहने मे मदद करता है पर दोस्तो के साथ ज़्यादा टाइम स्पेंड करना ये बुरी बात है. ऐसे मे आप अपने निजी लाइफ को टाइम नही दे पाते हो. ज़्यादा दोस्तो के साथ रहने से आप काई अच्छी आदते भी सीखते हो और काई बुरी habbit का शिकार भी हो जाते हो. ऐसे मे आपको डिसिशन लेना होता है की आपको उनके साथ रहना चाहिए की नही.

ये क्यों Dangerous है

दोस्तो का साथ कभी dangerous नही होता पर ज़्यादा दोस्तो को टाइम देना ये बाद मे dangerous बन जाता है. ऐसे मे होता क्या है की आप अपनी फॅमिली को टाइम नही दे पाते हो. दोस्त के बीच रह कर आप अपने आपको फ्री फील करते हो और इस चक्कर मे आप अपनी मनमानी कर बैठते हो. अगर आपकी संगति अच्छी है तो आप लोग आपस मे कुछ नया करने की कोशिश करोगे पर अगर आपकी संगति ग़लत है तो आप बुरी आदतो के शिकार हो जाओगे.

इससे कैसे बचे

इससे बचने का एक ही रास्ता है की दोस्त सोच समझ कर चुनो. दोस्तो के साथ रहो पर ज़्यादा टाइम स्पेंड ना करो. घर वालो को सबसे पहले importance दो.

तो दोस्तो आपको हमारा ये आर्टिकल केसा लगा, हमे बताने के लिए कॉमेंट बॉक्स पर कॉमेंट करे, हम आपके कॉमेंट का इंतेजार करेंगे. प्लीज़ इस आर्टिकल को जितना हो सके उतना सोशियल मीडीया साइट्स पे शेयर करे. Take care and have a nice day.

निचे और भी आर्टिकल है इन्हें भी पढिये

loading...

3 COMMENTS

    • Vijay ji itni bhi memory loss nahi hoti but ha isse dimaag sochna band kar deta hai. Books padho yar ya tv pe national geography dekho.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here