कैसे घर को खुशहाल बनाये – जरुर जाने

हेलो फ्रेंड्स केसे हो. हमारे ब्लॉग पर आप सभी का एक बार फिर से स्वागत है. दोस्तो आज का आर्टिकल है की, कैसे घर को खुशहाल बनाये”. दोस्तो आपको ये बात माननी होगी की घर को खुशहाल बनाने के लिए घर का environment भी वेसा होना चाहिए. घर को खुशहाल बनाने का मतलब ये है की परिवार के सभी मेंबर खुश हो और ये तभी हो सकता है जब आप एक दूसरो का ख्याल रखे, एक दूसरे को समझे और एक दूसरे के साथ ज़्यादा से ज़्यादा टाइम स्पेंड करे. अगर ये सभ कुछ आपके घर मे है तो इसका मतलब है की आपका घर खुशहाल वाला है. पर कई लोग ऐसे भी है जो बाहर मे खुश रहते है पर घर पर खुश नही रह पाते. इसके पीछे असली रीज़न ये है की आपका घर का माहोल वेसा नही है जेसा आप चाहते हो. दोस्तो इस आर्टिकल मे हमे कुछ ऐसे तरीक़ो पर बात करी है जिसके बारे मे आपको पता होना चाहिए. अगर आप वास्तुशास्त्रा को मानते है तो ये तरीके आपके घर पर ज़रूर काम करेंगे.

Kaise Ghar Ko Khushhaal Banaye – Jarur Jane

 

घर को अच्छा रखे

अगर हम वास्तुशास्त्रा की बात करे तो जहा पर आप रहते है उस घर का आपर बहुत असर पड़ता है. तो ऐसे मे आपके घर की कंडीशन केसी है वो बहुत मैटर करता है. नीचे कुछ फ़ॉर्मूले बताए गये है.

1. घर को साफ सुधरा रखे

अगर घर गंदा हो या घर मे साफ सफाई ना हो तो घर मे नेगेटिविटी आती है जिसका असर आपर भी पड़ता है. घर मे नेगेटिविटी होने से आपकी सोच और विचार नेगेटिव हो जाते है. ऐसे मे घर मे खुशहाली कैसे बन सकती है. सबसे पहले ये देखे की आपका घर साफ सुधरा है की नही. अगर है तो ठीक पर अगर नही है तो घर को साफ सुधरा बनाए. साफ सुधरा घर पॉज़िटिविटी को इन्वाइट करता है और ये आपके घर के लिए बहुत अच्छा है.

2. दीवारो का कलर लाइट रखे

आप लोगो को शायद पता नही होगा की दीवारो के कलर से भी आपके घर के माहोल का पता चल जाता है. कलर से इंसान के दिमाग़ और मूड पर बहुत फर्क पड़ता है. अच्छे मूड और दिमाग़ शांत रखने के लिए आपको घर के दीवारो मे वाइट कलर करना चाहिए. हो सके तो रेड कलर ना इस्तेमाल करे, रेड कलर भड़कता है. इसके अलावा अगर आपको कोई और कलर पसंद है तो लाइट कलर को चुनना ही सबसे बेस्ट रहेगा.

3. समान कम रखे

घर मे वही समान रखे जिनकी ज़रूरत है जो डेली काम मे आते हो. ज़्यादा समान रखने से घर मे खीची पिछी बहुत हो जाती है. ऐसे मे घर के मेम्बर को गुस्सा आने के चान्स ज़्यादा बन जाते है. तो घर पर समान कम ही रखे तो अच्छा है. अगर आप फालतू सामानों को स्टोर रूम मे रखने की सोच रहे है तो स्टोर रूम को टाइम to टाइम साफ़ करते रहे.

घर को खुशहाल बनाने के लिए क्या करे

उपर हमने घर को साफ़ करने के बारे मे बताया था पर इस भाग मे हम आपको और तरीके बताएँगे जिस की हेल्प से आप घर को खुशहाल बना सकते है. नीचे इन तरीक़ो को पढ़े और फॉलो करे.

1. एक दूसरे को टाइम दे

परिवार तभी पूरा बनता है जब फॅमिली के मेम्बर एक दूसरे से बात करे. एक दूसरो से बात करने से घर का माहोल अच्छा रहता है. एक दूसरे को टाइम देने से आप सभी को पता चलता है की एक दूसरे की लाइफ मे क्या चल रहा है. साथ मे बैठ कर, हसकर, अपनी प्रॉब्लम्स बताने को ही एक खुशहाल परिवार कहते है.

2. सभी की ज़रूरतो को समझे

जिस घर मे कोई एक दूसरे की कदर ना करता हो और ना ही एक दूसरे की ज़रूरतो को समझता हो तो हमारे नज़र मे वो घर घर नही है. खुशहाल परिवार उसे कहते है जिस घर मे सभी एक दूसरे की ज़रूरतो को समझते हो. खुद की खुशी को छोड़ कर परिवार को खुश करना, ऐसे परिवार हमारे नज़र मे खुशहाल घर कहलाते है.

3. अपनी बाते शेयर करे

परिवार मे एक दूसरे से बात शेयर करने से रिलेशनशिप स्ट्रॉंग बनता है. अगर आप किसी प्राब्लम मे है तो अपने परिवार वालो को बताये, ऐसे मे आपके फॅमिली वाले आपको suggest करेंगे और प्राब्लम सॉल्व करने की कोशिश करेंगे. अगर आपके पास कोई हसने वाली बात है तो अपने परिवार वालो को बताए, इससे घर का माहोल खुशनुमा हो जाएगा.

4. हमेशा अपनी आवाज़ नीचे रखे

अगर आप परिवार के बड़े है तो आपको इस बात का ध्यान रखना होगा की अपनी आवाज़ हमेशा नीची रखे. हम आपको एसा इसलिए कह रहे है क्योंकि, आप ही की आदते आपके बच्चे सीखेंगे. तो अगर आप तेज आवाज़ मे या तू तडाक मे बात करेंगे तो इसका असर आपके बच्चो पर भी पड़ सकता है. हो सकता है की आपके बच्चे बाद मे आपसे भी ऐसे ही बात करे. इस तरह से तो दिन प्रति दिन आपके रीलेशन आपके फॅमिली वालो से दूर होता जाएगा. तो अपने बच्चो से बात करे, स्ट्रिक्ट रूल्स बनाए.

तो दोस्तो हमे उम्मीद है की आपको हमारा ये वाला आर्टिकल बहुत पसंद आया होगा, हमे अपने opinion बताने के लिए कॉमेंट भाग मे कॉमेंट करे और हा यार इस आर्टिकल को जितना हो सके उतना शेयर करे.

 

निचे और भी आर्टिकल है इन्हें भी पढ़े

Advertisement
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here