क्या करे जब आपका परिवार शादी के खिलाफ हो

तो, दोस्तो हमे पूरी उम्मीद है की आप लोगो को हमारे सभी article time to time मिल रहे होंगे. आज का आर्टिकल एक अहम मुद्दा है की, क्या करे जब आपका परिवार शादी के खिलाफ हो”. इंडिया इकलोता एसा देश है जहा पर अलग अलग जाती के लोग रहते है, अलग अलग festivals मनाये जाते है, अलग अलग रीति रिवाज होते है etc etc. अगर marriage की बात की जाये तो हिन्दुस्तान के धर्म के हिसाब से एक लड़का अपने जाती की लड़की के साथ ही विवाह कर सकता है. हिन्दुस्तान के रीति रिवाज के हिसाब से सबसे पहले माता – पिता आपस मे मिल कर शादी fix करते है फिर बाद मे लड़के – लड़की को मिलाया जाता है. तो ऐसे है हमारे देश के रीति रिवाज पर आज कल के टाइम मे ये रीति रिवाज धीरे धीरे ख़त्म होती जा रही है.

आज कल के युवा leave relationship मे रहना ज़्यादा पसंद करते है, उन्हे कोई फर्क नही पड़ता है की लड़की किस धर्म से है या उसका रंग केसा है, उसका culture केसा है. माना जाता है की शादी की पसंद के साथ साथ आपके माता – पिता की मंज़ूरी का भी होना ज़रूरी होता है. अगर माता – पिता की मंज़ूरी ना मिले तो couple कई बड़े फेसले ले लेते है जिससे रिस्तो मे दूरिया बन जाती है. नीचे हमने कुछ सुझाव रखे है इन्हे पढ़िए और फॉलो करे. So, please check out below for information……………………………………………………………..

kya-kare-jab-aapka-parivar-shaadi-ke-khilaaf-ho

किन कारणों से परिवार शादी के खिलाफ होते है

ऐसे बहुत से कारण है जिनकी वजह से शादी होना ना के बराबर हो जाती है और आपको बड़े फैलसे लेने पड़ जाते है. ना तो new generation की ग़लती है और ना आपके माता – पिता की. भला पुरानी पीढ़ी और नयी पीढ़ी का मैल हुआ है कभी.

1. जाती अलग होने के कारण

अगर दोनो मे से एक अलग जाती का निकला तो माता – पिता उसी टाइम इस रिस्ते से माना कर देते है इसके पीछे कारण ये है की अलग जाती के साथ घुलने मिलने मे बहुत टाइम लग जाता है और उनकी रीति रिवाज समझने मे दिक्कत पैदा होती है. तो हम कह सकते है की अलग अलग जाती का होना किसी भी रिस्ते को जोड़ नही सकता.

2. रंग रूप के कारण

हर कोई माता – पिता यही चाहते है की उसका दामाद या उनकी बहू गोरी चिटी हो और ऐसे मे अगर सावली या काली निकल जाए तो समझ लो की रिस्ता हो ही नही सकता. उनका मानना होता है की रंग रूप का असर आने वाले बच्चो पर भी पड़ता है अगर बहू या दामाद गोरा हुआ तो बच्चा भी गोरा होता है. हमे तो एक बात समझ नही आती की ये बात बताता कोन है हमारे मा – बाप को.

3. माता – पिता का ना मानना

अगर माता – पिता मान गये तो बल्ले बल्ले अगर ना माने तो हो गयी आफ़त. अगर दोनो तरफ से देखा जाए तो माता – पिता का बहुत बड़ा रोल होता है शादी करवाने मे और हो भी कुए ना उन्हे हम से ज़्यादा experience भी तो लाइफ का.

4. तू तडाक के कारण

संस्कार सभी का दिल जीत लेते है अब ऐसे मे अगर कोई बडो के सामने तू तडाक करे तो किसको अच्छा लगता है.

क्या करे

अगर आपके माता-पिता आपके शादी के खिलाफ है तो उस reason को पकड़ो जिस वजह से शादी के लिए मना कर दिया. जेसे की जाती पाती, रंग रूप, हाइट के कारण, उची नीची जाती etc etc. घर वालो को समझाओ की अगर आप हमारी शादी कही और भी करवाते हो तो इससे एक और जिंदगी बर्बाद हो जाएगी. मैं जिंदगी भर तक उसे नही भूल सकता हू. आपको ऐसी कई सारी गोली घर वालो को पानी होगी. अगर फिर भी घर वाले इस शादी के लिए ना माने तो फिर हम भी क्या कह सकते है.

क्या ना करे

कई कपल शादी की मंज़ूरी ना मिलने के कारण घर छोड़ कर भाग कर शादी कर लेते है या फिर suicide कर देते है, ये सब ग़लत है, ऐसे मे आप अपने घर वालो को धोका दे रहे हो. अगर आपके घर वाले इस शादी के लिए नही मान रहे तो आप किसी ना किसी तरीके से समझा कर मना सकते हो. हर चीज़ की दवा होती है पर हमे ढूंडना होता है.

तो friends आपको हमारा ये आर्टिकल केसा लगा हमने best and unique तरीके बताए है. हमे कॉमेंट करने के लिए कॉमेंट बॉक्स पर कॉमेंट करे और हा जाते जाते इस आर्टिकल को भी share करना ना भूले. Take care and have a nice day all of you.निचे और भी आर्टिकल है इन्हें भी पढिये

Advertisement
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here