ईमानदार कैसे बने – Make Honest In Hindi

तो दोस्तों कैसे हो आप लोग, आज हम एक ऐसे topic के बारे में बात करने जा रहे है जिसके बारे में आपको पता होना चाहिये कि, आप ऐसे हो की नहीं. आज का article है कि, “ईमानदार कैसे बने”. ईमानदार या honest का मतलब है कि :- कभी झूट ना बोलना, जेसा आप बाहर से है वेसे अन्दर से रहना, सभी को एक जेसा समझना, हेरा फेरी ना करना, सभी को खुश रखना, आशा को ना मरने देना और इमानदारी से बात करना.

अब बात करते है कि, क्या असल में एक इंसान ईमानदार हो सकता है? अगर आप हमसे पूछे तो, ये कहना बहुत मुश्किल होगा की कोई इंसान पूरी तरह से honest हो सकता है क्योंकि आज के time में लगभग सभी लोग थोडा बहुत झूट जरुर बोलते है. उन्हें लगता है कि, थोडा बहुत झूठ चलता है और झूठ तब तक झूट नहीं कहलाता जब तक वो पकड़ा ना जाये. बेशक आपकी की हुई बेईमानी किसी और को पता ना चले पर आपकी आत्मा को तो पता है कि, आपने बेईमानी करी है. तो सबसे पहले आपके लिये ये जरुरी है कि, आप अपने साथ honest रहे.

अगर आप ईमानदारी के बारे में और सीखना चाहते है तो आपको ये article पूरा पढना चाहिये. So, please check out below for more information………………………………….

ईमानदार कैसे बने – Make Honest In Hindi

खुद से ईमानदार रहे

ईमानदार बनने के लिये सबसे पहले आपको अपने आपको सुधारने की जरुरत है क्योंकि अगर आप अपने आपसे ईमानदार नहीं है तो आप किसी के लिये ईमानदार नहीं बन सकते. दोस्तों इस section में हमने कुछ तरीके बताये है, एक एक करके इन्हें पढ़े और follow करे.

1. पहले अपनी अच्छाई और बुराई के बारे में जाने

आपके लिये सबसे पहले ये जरुरी है कि, अपने आपको अच्छी तरह से जानना. अगर आप अपने आपको अच्छी तरह से जानते है तो इसका मतलब है कि, आपको ये पता है की आपमें क्या अच्छा है और क्या बुरा.

पर कुछ लोग ऐसे भी है जो अपने आपको इतना जानते है जितना कि, एक अनजान आदमी आपको जानता है. ऐसे लोगो के लिये अपने आपको पूरी तरह से जान पाना बहुत मुश्किल होता है. पर हमारे पास एक idea है जिस की मदद से आप अपने आपको अच्छे से जान सकते हो. आपको अपनी strength (अच्छाई) और weakness (बुराई) को जानने के लिये एक notepad या paper में एक list बनाना होगा.

आपको अपनी notepad या paper में strength में ये mention करना होगा कि, आपमें क्या अच्छा है, आपको लोग किस नजरिये से देखते है, आप अपने daily life में कैसे है और आप क्या अच्छा कर सकते है. इसके साथ साथ आपको अपने weakness में भी mention करना होगा कि, आपमें क्या क्या कमी है, किन वजह से लोग आपको पसंद नहीं करते है etc etc.

2. Improvement करे

जब आपके पास अपनी एक list तैयार हो जाये तो सबसे पहले आपको अपनी कमियों में improvement करने की जरूरत है, हम आपको ऐसा इसलिए कह रहे है क्योंकि यही कमिया आपको अच्छा इंसान बनने से रोक रही है. अपनी कमियों को देखे और सुधारे.

For example :- मान लो कि, आपको बहुत ज्यादा झूट बोलने की आदत है. आपकी आदत इतनी बढ़ चुकी है कि, जब आप किसी को कोई सही बात भी बताते हो तो उस बात को भी आप मिर्च मसाला डाल कर बताते हो. दोस्तों ये चीज़े तब तक अच्छी लगती है जब तक आपकी बुराई दुसरो को पता ना चले. एक बार आपकी बुराई का पता चल जाये तो लोगो में आपकी image बिगड़ जाती है.

तो ऐसे में आपको झूट बोलने की आदत को सुधारना चाहिये. जब भी आपको लगे कि, आप झूट बोलने वाले है तो उसी time इसके side effect के बारे में सोचे कि, जब झूट का पता चलेगा तब क्या होगा. यही एक तरीका है झूट की आदत से छुटकारा पाने के लिये.

3. जेसा आप अन्दर से है वेसे ही बाहर से रहे

यहाँ पर एक चीज़ ये समझने वाली है कि, आप अन्दर से कैसे है? क्या आप जेसा अन्दर से है वेसे ही बाहर से है? अगर है तो ठीक but अगर नहीं है तो इसका मतलब है कि, आप अपनी जिंदगी में 2 life जी रहे है. अन्दर की life को दबाना और बाहरी दिखावट को अपनाने का मतलब है कि, आप ईमानदार नहीं है.

आप जेसे है वेसे ही रहे और ये भी याद रखे कि, वो कभी ना बने जो आप नहीं है. Naturally life आपको ओरो से अलग बनाता है, यहाँ से आप honest person बन सकते है.

लोगो से ईमानदार रहे

अब बात करते है कि, लोगो से कसी ईमानदार रखे ताकि लोगो को लगे आप अच्छे इंसान है. दोस्तों नीचे हमने कुछ तरीके बताये है, जिससे हम दावे के साथ कह सकते है कि, आप लोगो की नजर में हमेशा अच्छे और honest रहेंगे.

1. अपनी तुलना दुसरो से ना करे

Human nature में कई बुराईया मोजूत है और दुसरो के साथ अपने आपको compare करना ये उनमे से एक है. आपने अक्सर ये देखा होगा कि, हम झूठ या अपनी बढाई तब करते है जब हम अपने आपको किसी से compare करनी की कोशिश करते है. अगर आप अपने आपको दुसरो से compare करना छोड़ दे तो आप पाओगे कि, आपमें आधी से ज्यादा बुराईया अपने आप ख़त्म हो जायेगी.

ये समझने की कोशिश करे कि, आज आप जिस situation में है या position में है कुछ लोगो के पास तो वो भी नहीं है. तो जितना आपके पास है उतने में संतुस्ट रहे और ईमानदार बने.

2. सभी को एक जेसा समझे

ईमानदारी का ये मतलब नहीं है कि, बस खुद ईमानदार रहना बल्कि लोगो के प्रति भी ईमानदार रहे. आपसे बड़े लोग हो या छोटे लोग, सभी को एक जेसा समझे, यहाँ से आपके nature का पता चलता है. सभी के साथ easy तरीके से बात करे, अगर आपको लगे की किसी अनजान person को help की जरुरत है तो तुरंत उनकी help करे. ये सोच कर help ना करे कि, आप उनपर एहसान कर रहे है बल्कि ये सोचे कि, आज आपने उनकी help करी है कल आपकी कोई help करेगा.

3. लोगो की तारीफ करे

आपको ये भी समझना चाहिये कि, दुनिया में हर कोई तारीफ का भूका है तो जितना हो सके उतना खुल कर तारीफ करे. इस बात का ध्यान रखे कि, फालतु की तारीफों से बचे क्योंकि ऐसा करने से आप गलत image का शिकार हो सकते है.

आप तारीफ किसी भी situation पर कर सकते है जेसे कि :- अगर कोई आज अच्छा लग रहा है तो उसकी तारीफ करे, अगर कोई knowledge की बात बता रहा है तो उसकी तारीफ करे, अगर आपका कोई दोस्तों अच्छी job में लगा हुआ है तो उसकी तारीफ करे. दोस्तों ये सोच कर तारीफ ना करे कि, आपको लोगो के सामने ईमानदार रहना है बल्कि ये thinking रखे कि, अगर कोई तारीफ के लायक है तो उसकी तारीफ करना बनता है.

तारीफ करने से साथ साथ आपको बोलने का तरीका भी आना चाहिये. बहुत कम लोगो को ये पता होगा कि, लोग आपके बोलने के technique से ही पता लगा लेते है कि, आपका mood केसा है. तो जब भी आप किसी की तारीफ करे तो, आराम से बात करे क्योंकि हमारे हमारे बात करने का ढंग हमारा character बताता है.

तो दोस्तों आपको हमारा ये article केसा लगा, हमे comment के through जरुर बताये. दोस्तों इस article को share करना ना भुले social media sites पे और हमारे साथ बने रहे next article के लिये. Thanks and have a nice day.

loading...

3 COMMENTS

  1. sir. mujhe stamina increase kar Na Hai running k liye gym k liye stamina increase kese kare mujhe pata Hai app koi acha tarika batao ge ya es topic par article likh do

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here