काम करते Time आलस को कैसे दूर करे – Overcome Laziness In Hindi

तो कैसे हो दोस्तों आप लोग, आप सभी का एक बार फिर से स्वागत है हमारे blog पर और आज का article है कि, “काम करते time आलस को कैसे दूर करे”. आलसपन human nature का एक हिस्सा है इसे सभी लोग face करते है. आलस मतलब laziness मतलब असफलता की ओर जाने का तरीका. दोस्तों आलसपन को हमेशा से ही इंसानों के लिये unhealthy माना गया है अगर हम साफ़ साफ़ शब्द में कहे तो आलसपन हमेशा से ही इंसानों का दुश्मन रहा है.

सबसे पहली बात जो ये जानने वाली है कि, आलसपन आता कहा से है? आलसपन को हम अपनी life में क्यु face करते है? दोस्तों अगर simple शब्दों में कहे तो आलसपन आपके life style के कारण आता है. आपका कम सोना, आपका ज्यादा tension में रहना, आपका ज्यादा थकना, आपका साफ़ सुधरा ना रहना, आपका खान पान अच्छा ना रहना etc etc. ये सभी चीजी अगर आपकी life में सही ना हो तो आपको हर रोज आलसपन से गुजरना पड़ता है.

जेसा की आपको पता है कि, आलसपन में कुछ भी काम करने का मन नहीं करता है, आप हर काम कल पर टाल देते हो. इससे होता क्या है कि, आपकी life की गति धीमी हो जाती है और आप लोगो के साथ कंधे से कंधे मिला का चल नहीं पाते.

तो दोस्तों इस article में हम बात करने वाले है कि, काम करते time आलसपन मतलब laziness से कैसे छुटकारा पाया जाये? तो अगर आप भी आलसपन का शिकार है तो आपको हमारा ये article पूरा पढना चाहिये. So, please check out below for more information……………………………………………

काम करते Time आलस को कैसे दूर करे – Overcome Laziness In Hindi

पहले अपने आपमें कुछ Changes करे

दोस्तों जेसा कि, हमने आपको ऊपर भी बताया था कि, आलसपन आपके lifestyle के कारण ही आता है तो सबसे पहले आपको अपने lifestyle में कुछ changes करने होंगे जिससे आलसपन आपके आसपास भटके ना. यहाँ पर बताये गये तरीको को पढ़े और follow करे.

1. साफ़ सुधरा रहे

साफ़ सुथरा जितना हमारे लिए और हमारे आसपास के लोगो के लिये सही रहता है उतना ही आलसपन से दूर रहने के लिये सही रहता है. शायद ये बात बहुत कम लोगो को पता होगा कि, शरीर का साफ़ सुधरा ना रहना आलसपन की निशानी होती है. इस बात को साबित करने के लिए हम आपको example की ओर ले जाते है.

For example :- यहाँ पर हम 2 ऐसे लोगो की बात करने वाले है, जिसमे से एक office जाता है और दूसरा घर पर ही काम करता है. जो लोग office जाते है वो हमेशा साफ़ सुधरा रहना पसंद करते है इसके पीछे कारण ये है कि, उन्हें office में कई staff के बीच रहना होता है ऐसे में अगर साफ़ सुधरे ना रहे तो shame वाली बात हो जाती है. साफ़ सुधरे रहने का फायदा ये है कि, आप active feel करते हो, एक अलग सा confidence आता आता है, लोग आपको पसंद करते है etc etc.

अब बात करते है दुसरे लोगो कि, जो घर पर काम करते है. ज्यादातार लोग जो घर पर काम करते है वो साफ़ सुधरा रहना पसंद नहीं करते है इसके पीछे अगर कारण की बात की जाये तो, ज्यादातार लोगो का यही सोचना होता है कि, हमे कोन सा घर से बहार जाना है या लोगो ने हमारे घर आना है. साफ़ सुधरा ना होने से negativity आती है, confidence low होता है और दिमाग कम चलता है. अगर आप घर पर काम करते है और साफ़ सुधरा नहीं रहते है तो आप ये चीज़े अपने आप में देख सकते है.

दोस्तों इस example में हमने आपको बता दिया है कि, साफ़ सुधरा रहने से क्या होता है? और साफ़ सुधरा ना रहने से क्या होता है?     

2. पूरी नींद ले

आजकल की lifestyle इतनी fast है कि हम इसका सामना करते करते थक जाते है. तो ऐसे में हमारे लिए ये बहुत जरुरी हो जाता है कि, अपने आपको rest दे. Proper rest आपको active रखने में help करता है और irregular rest आपको low energy और laziness provide करता है. तो आपके लिए ये जरुरी है कि, अपने health के बारे में सोचे.

अगर आपको आलसपन और छोटी मोटी बीमारियों से छुटकारा चाहिये है तो आपको हर रोज कम से कम 8 घंटे की नींद लेनी होगी और वो भी regular. दिन में आप आधे घंटे की rest ले सकते है.

3. Physical Activities करे

अगर आपको लगता है कि, आपमें आलसपन बहुत कूट कूट के भरा है तो इसका मतलब है कि, आपमें physical activities ना के बराबर है. तो आज से ही exercise करना start कर दे. Exercise में आप walk, jogging, aerobics कुछ भी कर सकते है. इस तरह की exercise करने से आपको natural power मिलती है, आपका mood अच्छा होता है और आपको active रखने में help करता है. तो दोस्तों exercise करे और वो भी regular, तभी आप laziness से अपने आपको बचा सकते हो.

4. अपने खाने पिने पर भी ध्यान दे

हम दावे एक साथ कह सकते है कि, अगर आप बहुत ज्यादा आलसपन feel करते है तो आपकी diet भी अच्छी नहीं होगी. हो सकता है कि, आप junk food ज्यादा खाते हो और घर का खाना कम खाते हो. जो भी हो पर यहाँ पर एक चीज़ जो समझने वाली है वो है अच्छी diet का लेना. आप अपने diet में green vegetables और healthy food ले. अपने junk food को कम करे और जितना हो सके उतना पानी पीये.

काम करने का तरीका बदले

दोस्तों ऊपर हमने आपको अपने lifestyle में changes करने के बारे में बताया था but अब हम आपको काम करने के तरीके के बारे में बतायेंगे, जिसकी help से आप आलसपन को दूर कर सकते हो.

1. पहले List बनाये

हमे नहीं पता कि, आप काम कैसे करते है but अगर आप काम में आलसपन feel करते है तो ये आपके लिए बिल्कुल सही नहीं है. काम में आलसपन आने का मतलब काम को सही time पर पूरा ना करना है और हमे नहीं लगता है कि, इस तरह से कोई भी आपसे खुश होगा जेसे कि :- आपका boss, आपका client या आपका business partner.

काम छोटा हो या बड़ा इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, बस आपको अपने काम करने का style बदलना होगा. आपको अपने हर रोज के काम के लिये एक goal set करना होगा जिसमे आपको ये mention करना होगा कि, आपको काम को किस तरह से करना है, कितने time में काम पूरा करना है etc etc.

2. उट पटांग के काम पहले ना करे

Morning में आपके पास energy power बहुत होती है, जिसका use सही जगह करना बहुत जरुरी है. पर कुछ studies से पता चला है कि, जब लोग morning में काम करने बैठते है तो उससे पहले वो उट पटांग वाले काम पहले करते है जेसे कि :- घर का काम करना, phone पर लगे रहना, social media का use करना etc etc. ऐसे में क्या होता है कि, जो आपकी energy power होती है वो इन waste के कामो में लग जाती है जिससे बाद में आपका मन काम में कम लगता है या आपका ध्यान बीच बीच में भटकता है.

तो अगर आप ऐसा नहीं चाहते है तो आपको पहले अपना काम करना होगा फिर जाकर बाद में waste के कामो पर ध्यान देना होगा.

3. काम के बीच बीच Break रखे

ये वाला तरीका हमारे हिसाब से सबसे best है. जब आपको काम के बीच बीच में आलसपन feel होये तब आपको break ले लेना चाहिये. उस break पर आप आलसपन को दूर या कम करने के लिये थोड़ी देर rest मार सकते हो, walk पर कही जा सकते हो या physical एक्टिविटीज भी कर सकते हो. इस तरह से आप दुबारा active हो जाओगे.

4. अगर आलसपन Feel होये तो मुह धो ले

ये वाला तरीका भी सबसे best है. जब भी आपको लगे कि, आप सुस्ती या आलसपन feel कर रहे हो उसी time उठे और पानी से अपना face धोये. ऐसा करने से आप fresh feel करोगे.

5. last में Professional Help ले

अगर हमारा कोई भी तरीका आपके काम नहीं आये तो इसके लिये हम माफ़ी मांगते है. हो सकता है कि, आपको कोई mental health issue हो. हम तो आपको यही suggest करेंगे कि, किसी professional doctors से help ले. वही आपको सही तरीका बता सकते है.

तो दोस्तों आपको हमारा ये article केसा लगा, हमे बताने के लिए इस article के नीचे commenting section है वह पर comment करे. अगर आपके मन में इस article से related कोई भी सवाल है तो वो भी हमसे पूछे. दोस्तों हमारे साथ बने रहे next article के लिये. Thanks and have a nice day all you.

Advertisement
loading...

2 COMMENTS

  1. sir mujhe ladki yoo se baat karne ne daar lag ta hai mai ladki yoo se baat nahi kar pata to kese daar khatam kare or kese binaa sharam or daar k baat kare

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here