हमारी Life में Problems क्यों आती है – Why We Face Problem

तो कैसे हो दोस्तों, हमे उम्मीद है कि आपको हमारे article लगातार मिल रहे होंगे. दोस्तों आज का article है कि, “हमारी life में problem क्यों आती है”. Friends अगर हम आपसब से पूछे कि, problem क्या है? तो आप सब का यही जवाब होगा कि, परेशानी हमारी life का एक हिस्सा है और हमे problem को अपने daily life में face करना पड़ता है. Problem आने पर हम परेशान, stress, tension feel करते है? पर दोस्तों आपने कभी सोचा कि, हमे problem क्यों आती है? भगवान ने हमे ही क्यों problem के साथ बनाया? अगर आपके मन में भी यही सवाल है तो ये article आपके दिमाग के सवालों को solve करने वाला है. तो दोस्तों इस article को पूरा पढ़े. So, please check out below for more information……………………………………….

हमारी Life में Problems क्यों आती है – Why We Face Problem

Problem सभी की Life में आती है

अगर problem हमारी life का natural process है तो इसका मतलब है कि, problem सभी के life में आती है. दोस्तों अब बात करते है कि, हमारी life में problem क्यों आती है? ऊपर वाले ने हमे problem इसलिए दिया है ताकि हम correct हो सके, perfect हो सके और खुद को protect कर सके. अगर आपके पास problem मतलब परेशानी नहीं है तो आप strong नहीं बन सकते.

For Example :- मान लो कि, आपको हमेशा पैसो की परेशानी रहती है तो ये आपके लिए बहुत बड़ी problem है. ऐसा नहीं कि, आप कमाते नहीं हो पर अक्सर आपको पैसो की दिक्कत का सामना करना पड़ता है. तो इसका मतलब है कि, आप पैसो के मामलों में बहुत कमजोर हो. कई लोग अपनी इस कमजोरी को समझते नहीं है और ये सोच कर ignore कर देते है कि, पैसो की problem तो आम बात है. ऐसे में वो लोग अपनी problem से निकल नहीं पाते है और regular यही problem face करते है. अब ये आपपर depend करता है कि, आपने अपनी problem को solve करके strong बनाना है कि, regular यही problem face करना है?        

Problem से कैसे निकले

दोस्तों जेसे कि, आप सभी को पता है कि, problem को सभी को अपनी life में face करना पड़ता है. ऐसे में आपको आना चाहिए की परेशानियों से कैसे छुटकारा पाया जाये. इस section में हमने आपको कुछ तरीके बताये है, जिस की help से आप किसी भी problem से easily निकल सकते है.

1. Problem को Accept करे

हम हमेशा छोटी मोटी problem को ignore मार देते है और तब तक उसपर ध्यान नहीं देते जब तक वो problem बड़ी नहीं हो जाती. तभी हम अपनी life में एक ही problem को ज्यादा बार face करते है. देखो दोस्तों problem आना बुरी बात नहीं है but problem को ना मानना या accept ना करना बुरी बात है. आपकी गलती से ही problem create हुई है तो normal सी बात है की आपको अपनी गलतियों को मानना चाहिये. तो कभी भी आपको लगे की आप किसी problem में है या आपको कही पर दिक्कत हो रही है तो पहले अपनी गलती माने फिर उस गलती को solve करने की कोशिश करे.

2. अपनी Problem को Solve करे

Problem को solve करने के बहुत तरीके है but हम जो तरीका बताने वाले है वो एक दम simple है और 100% काम वाला है. क्या होता है कि, जब हम किसी problem में होते है तो उस time पर हमारा दिमाग चलना बंद हो जाता है. ऐसे time पर सोचना बंद कर दे और relax रहने की कोशिश करे. आप relax रहने के लिए deep breathing का सहारा ले सकते हो. Relax होने के बाद अपनी problem को मोबाइल के text box या किसी कागज में लिख ले. फिर देखे की आपको क्या क्या दिक्कत आरही है. अपनी दिक्कतों की एक list बनाये और एक एक करके solve करे. इस तरह से आप अपनी problem को deeply solve कर पाओगे.

Problem को solve करने के लिए आप google पर भी search मार सकते है. आप google में yahoo answer या quira.com पर अपनी problem को find करके solution ढूंड सकते है.

3. अपनी Problem किसी से Share करे

हर problem अलग अलग type के होते है कुछ problem आप 2 minute में solve कर देते हो तो कुछ परेशानियों को solve करने में बहुत time लग जाता है और कुछ ऐसे problem होते है जिसे आप solve करने की कोशिश करते हो but solve नहीं कर पाते, ऐसे में आपको अपनी problem को किसी से share करनी चाहिए. कोई ऐसा जिसपर आपको पूरा भरोसा हो, वो कोई भी हो सकता है जेसे कि :- आपके दोस्त, आपके parents, आपके teacher या family members. Problem बताने से एक तो आपका stress कम होता है और दूसरा आपको अपनी परेशानियों के जवाब मिल जाते है.

4. खुद पर विश्वास रखे

खुद पर विश्वास रखने का मतलब है कि, अपने आने वाले सभी problem को एक challenge की तरह लेना. जब आप doubt में होते हो तो आप लडखडा जाते हो और जो आप decision लेने हो वो गलत होता है. यही doubt आपको negative experience देता है. तो दोस्तों believe in yourself, तभी आप अपनी हर problem को easily solve कर पाओगे.

5. Problem के Time शांत रहे

अचानक से आई हुई problem आपके दिमाग को झिंझोर देता है. For example :- मान लो की आप शांत बैठे हो और आपको कोई phone कर के कह दे कि, भाई तू फैल हो गया 3rd year में. तो ऐसे में 2 से 5 minute तक आपका दिमाग सुन हो जाता है और आपको समझ नहीं आता है कि, अब क्या करे या तो आपके दिमाग में हजारो thoughts चलने लग जाते है. इस तरह से लिया गया reaction सही नहीं है. आपको शांत रहने की कोशिश करनी चाहिए. शांत रहने के लिए आप deep breathing करे वो सबसे best है. उसके बाद आप decision ले की अब क्या करना है.

तो दोस्तों आपको हमारा article केसा लगा, हमे article के नीचे दिए गए commenting section में comment करे. दोस्तों इस article को share करना ना भुले social media sites पर. हमारे साथ बने रहे next article के लिए. Thanks and have a nice day all of you.

loading...

4 COMMENTS

  1. matlab sir confusion nahi Hai jesa ki app ne mujhe phele wale article me batya tha ki mai confused hu nahi sir mai confused nahi hu but mera jo maan kabhi karta Hai or kabhi nahi karta maan ki problem Hai plz plz reply dena

  2. kaise chhode apni gf ko mai use Bhulna chahata hu but bhul nhi pa rha hu. vo bhi mujhse sayad payar karti hai. or mai bhi but hamari femly ko ye pasand nhi hai

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here